मंकीपॉक्स वायरस कैसे फैलता है, क्या है | What is Monkeypox Virus in Hindi

WhatsApp ગ્રુપમાં જોડાવા ક્લિક કરો Join Now

क्या है मंकीपॉक्स (What is Monkeypox Virus in Hindi) | कैसे फैलता है मंकीपॉक्स (How Monkeypox Spread in Hindi) | क्या हैं मंकीपॉक्स के लक्षण (What is the Symptoms of Monkeypox in Hindi)

यह दुनिया कोरोनावायरस के कारण अभी तक उभरी हुई नहीं पाई है और मंकीपॉक्स वायरस आया है, दुनिया के कई देशों में मन की मंकीपॉक्स नामक बीमारी की पुष्टि की गई है आज हम इस आर्टिकल में आपको यह मंकीपॉक्स वायरस क्या है उसके बारे में बताएंगे। और इस वायरस के जुड़ी हुई तमाम बातें जो सब को जानना जरूरी है वह आज हम आपके साथ शेयर करेंगे।

मंकीपॉक्स वायरस कैसे फैलता है, क्या है | What is Monkeypox Virus in Hindi

दुनिया में बीते 2 सालों कोरोनावायरस तबाही मच गई थी अब तक लोगों ने कोरोना का संकट उबर भी नहीं पाए हैं वह उसी के बीच दुनिया पर नया संकट मंकीपॉक्स (Monkeypox) नामक वायरस ने दस्तक दे दी है। दुनिया में कई देश में यह मंकीपॉक्स नामक वायरस ने दस्तक दे दी है और मरीजों की पुष्टि भी की गई है सबसे ज्यादा मरीज अब तक पुर्तगाल में देखे गए हैं। पुर्तगाल में अभी तक 14 मरीजों की पुष्टि की गई है और बाकी 6 मरीज संदिग्ध में पाए गए है। इसलिए इसके अलावा यह वायरस यूके में 9 मरीज को फैला हुआ है और यूएसए में एक मरीज की पुष्टि की गई है और स्पेन में मंकी पहुंच वायरस के 7 मरीजों पाए गए हैं और स्पेन में 40 संदिग्ध मरीज भी है। मंकीपॉक्स नाम का यह वायरस बहुत ही रेयर वायरस है जो संक्रमित जानवरों से इंसानों में के बीच खेला जाता वायरस है यह जाने के मंकीपॉक्स बीमारी से जुड़ी बातें क्या है।

क्या है मंकीपॉक्स (What is Monkeypox Virus in Hindi)

यह मंकीपॉक्स वायरस से अमेरिका के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (CDC) के अनुसार सबसे पहले मांग की फौज का मामला 1958 मैं देखा गया था उस समय भी यह बीमारी बंदरों में पाई जाती थी वह इन बंदरों में चेचक जैसी बीमारी का लक्षण देखने को मिलते थे बाद में लेकिन इंसानों के बीच मंकीपॉक्स का पहला मामला 1970 मैं देखा गया था वह अफ्रीका के सामने आया था और बाद में 1970 के बाद अफ्रीका के 11 देशों में इसके मरीजों की पुष्टि की गई थी और अफ्रीका से ही यह बीमारी अन्य देशों तक पहुंची थी यह माना जाता है। सबसे पहले अमेरिका में 2003 में मंकीपॉक्स का वायरस का मामला सामने आया था साल 2018 में यह बीमारी इजराइल और ब्रिटेन देश में भी पहुंच ही गई थी बाद में 2009 में मंकी पहुंच का मामला सिंगापुर मैं भी देखा गया था और बाद में अभी यह मामला पुर्तगाल यूके स्पेन कनाडा और यूएसए में भी देखा गया है.

क्या हैं मंकीपॉक्स के लक्षण (What is the Symptoms of Monkeypox in Hindi)

मंकीपॉक्स वायरस शुरुआती स्टेज में खसरा चाचा क्या चिकन पॉक्स की तरह नजर आता है बाद में इसको ध्यान आया को खोला चेहरे से शुरू होता है यह शरीर के अन्य भागों में भी फैलता है और इसके कारण मरीजों को बुखार, मांसपेशियों में दर्द, पीठ दर्द और सिर दर्द भी होता है और लिप्स नोट में सूजन या ठंड लगना या थकावट निमोनिया के लक्षण और फ्लू के लक्षण दिखाई देते हैं। इन लक्षणों के अलावा मरीज पर पूरे शरीर पर दाने या फूल निकल आते हैं और वह दिखने में बहुत ही घिलोना दिखता है।

कैसे फैलता है मंकीपॉक्स (How Monkeypox Spread in Hindi )

मंकीपॉक्स नामक वायरस संक्रमित जानवरों से फैलने वाली बीमारी है, यह सबसे पहले बंदरों के अलावा चूहा और गिलहरी से भी फैलने का सबूत मिलेगा यह है और मंकीपॉक्स संक्रमित जानवरों के खून व उसके शरीर का पसीना या उसके घाव के सीधे संपर्क में आने से फैल सकता है। और यह कोरोनावायरस की तरह संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने से भी यह बीमारी फैलती है तो पका मांस और संक्रमित व्यक्ति को बिस्तर और कपड़े के संपर्क में आ जाने से भी मंकीपॉक्स वायरस फैल सकता है।

मंकीपॉक्स मरीज को ठीक होने में कितना समय लगता है

यदि किसी को मन की खोज वायरस हो सकता है तो उसको ठीक होने में कितना समय लगता है उसको करीब 2 से 4 हफ्ते का समय लगता है और इस बीच का वक्त होने का काफी दर्द महसूस हो सकता है बाद में इसके समय रहते इलाज होना जरूरी है वरना इम्यून सिस्टम को कमजोर करने के साथ में निमोनिया के लक्षण भी दिखाई देते हैं और इसके साथ निमोनिया होने पर स्थिति गंभीर हो सकती है।

Leave a Comment

ઇન્સ્ટન્ટ સેન્ડવીચ ઢોકળા Manav Garima Yojana 2022 હેઠળ પસંદ થયેલા લાભાર્થીઓની યાદી ફરી એકવાર વતનમાં આવશે વડાપ્રધાન હેમચંદ્રાચાર્ય યુનિવર્સિટી દ્વારા ભરતી બહાર 31 ઓગષ્ટ ના ગુજરાત જ્ઞાન ગુરુ ક્વિઝ પ્રશ્નો